मैं जब इंटरव्यू के लिए गई मुझे 20 मर्दों के साथ संबंध बनाने पड़े-इसके बाद

0
802
loading...
loading...

इग्लैंड के टिनेसाइड की रहने वाली एक महिला ने बताया कि कैसे नौकरी के चक्कर में उसे एक से’क्स स्लेव बना दिया गया। जिसके बाद उसकी जिंदगी नर्क बन गई थी।

सारा फोरसिथ नाम की महिला ने हाल ही में अपनी किताब ‘स्लेव गर्ल’ के जरिए नर्क में बीते दिनों की खौ’फनाक सच्चाई बयां की है।

सारा ने बताया कि 19 साल की उम्र में वो एक न्यूजपेपर पर विज्ञापन देखकर एम्सटर्डम पहुंच गई थी।

ये घटना 1997 की है, जब सारा नर्सरी मैनेजर की जॉब के लिए एक ऑफिस पहुंची थी। लेकिन वहां उसकी मुलाकात ब्रिटेन के एक खूंखार क्रिमिनल जॉन रीस से हो गई।

जॉन रीस ने उसे वेश्यावृत्ति के धंधे में धकेल दिया। सारा ने किताब में बताया कि कैसे उसे किडनैप कर बेच दिया गया था। बेचे जाने के बाद उसे एक रात में 20 मर्दों के साथ संबंध बनाने पर मजबूर किया जाता था।

सारा ने बताया कि कैसे उसे एम्सटर्डम के चर्चित रेड लाइट एरिया में रखा गया था। उसके साथ एक और लड़की रहती थी, जिसने वहां से भागने की कोशिश में जान गंवा दी।

उसने दलालों को ठीक से कमाकर नहीं दिया, तो गोली से उसका भेजा उड़ दिया गया था। सारा ने कहा, ‘मुझे आज भी उस रात के डरावने सपने आते हैं’।

मौत के डर से सारा जबरन 20-22 मर्दों से संबंध बनाने लगी। लेकिन इससे उसके शरीर का बुरा हाल हो रहा था। सारा के मुताबिक, उसने दर्द कम करने के लिए कोकीन लेना शुरू कर दिया था और फिर ड्रग एडिक्ट बन गई।

सारा ने किताब में बताया है कि वहां उसकी जिंदगी नर्क जैसी हो गई थी। वहां खाना भी बहुत कम दिया जाता है। खुशकिस्मती से एक दिन सारा वहां से बच निकलने में सफल रही।

उसने इसके बाद दिलेरी से पुलिस को देह व्यापार और मानव तस्करी करने वाले लोगों के बारे में बताया, जिन्हें जेल भेज दिया गया। सारा फिलहाल खुद को ठीक करने के लिए साइकोलॉजिस्ट की मदद ले रही हैं।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here