अमेरिका ने मोदी सरकार को दिया तगड़ा झटका, किया ये बड़ा ऐलान, जानकर होंगे हैरान

0
621
loading...
loading...

लोकसभा चुनाव-2019 में पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी समर्थित एनडीए गठबंधन ने प्रचंड बहुमत के साथ जीत दर्ज की। 30 मई को पीएम नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री पद की शपथ ली।

उनके शपथ ग्रहण समारोह में अरविंद केजरीवाल से लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जैसे दिग्गज नेता भी शामिल हुए। वहीं ममता बनर्जी इस समारोह में शामिल नहीं हुईं।

केंद्र में फिर से मोदी सरकार बनते ही एक बड़ी मुसीबत सामने आ गयी। अमेरिका ने मोदी सरकार को तगड़ा झटका देते हुए बड़ा ऐलान किया है।

बीजेपी की प्रचंड जीत पर अमेरिका ने की थी तारीफ

इस चुनाव में बीजेपी की जबरदस्त जीत पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ की थी। वह अक्सर भारत की तारीफ करते हैं। लेकिन अब उन्होंने एक ऐसा ऐलान कर दिया जिसे जानकर आपको हैरानी जरूर होगी।

जानिए क्या बोले अमेरिकी राष्ट्रपति

दरअसल अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जीएसपी व्यापार कार्यक्रम के तहत भारत को प्राप्त लाभार्थी विकासशील देश का दर्जा खत्म करने का ऐलान किया है।

उन्होंने कहा,”मैंने यह तय किया है कि भारत ने अमेरिका को अपने बाजार तक सामान और तर्कपूर्ण पहुंच देने का आश्वासन नहीं दिया है, इसलिए 5 जून, 2019 से भारत को प्राप्त लाभार्थी विकासशील देश का दर्जा समाप्त करना बिल्कुल सही है।”

अमेरिका जल्द ही भारत को बड़ा झटका देने वाला है जिससे भारत को व्यापार में नुकसान उठाना पड़ सकता है. दरअसल अमेरिका भारत को मिले GSPदर्जे को खत्म करने के अपने फैसले पर कायम है

जिसके बाद अब वाइट हाउस ने ऐलान कर दिया है कि भारत को मिला ये दर्जा 5 जून 2019 को खत्म कर देगा. अमेरिका ने भारत के GSP दर्जे को खत्म करने की घोषणा 4 मार्च को की थी

जिसके बाद भारत को 60 दिनों का नोटिस भी दिया गया था. ये नोटिस 3 मई को खत्म हो गया है और अब बताया जा रहा है कि अमेरिकी सरकार भारत को दिए गए GSP दर्जे को 5 जून को वापस लेगी वापस लेगी.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हाल ही में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि, ‘भारत ने अब तक यह आश्वासन नहीं दिया है कि वह अपने बाजारों में अमेरिका को बेहतर पहुंच देगा.

क्या है GSP?

GSP यानी सामान्य तरजीही प्रणाली अमेरिकी की तरफ से दी जाने वाली तरजीह की सबसे पुरानी प्रणाली है. अमेरिका ये तरजीह व्यापार में दूसरे देशों को देता हैं. अमेरिका जिन देशों को GSP का दर्जा देता है

वो बिना किसी शुल्क के अमेरिका में निर्यात कर सकते हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भारत 2017 में GSP के तहत मिलने वाले लाभ का सबसे बड़ा लाभार्थी था. इसके तहत भारत ने अमेरिका में 5.7 अरब डॉलरह का निर्यात किया था.

आप हमें इस पर अपनी राय जरूर दीजिये और हमें बताइये कि अमेरिकी राष्ट्रपति ने ऐसा ऐलान क्यों किया? साथ ही हमें फॉलो जरूर कीजिये।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here